मुसलमानों की 77 जातियों को इंडी गठबंधन वालों ने रातों-रात ओबीसी बना दिया : पीएम मोदी

समग्र समाचार सेवा
शिमला, 24मई। हिमाचल प्रदेश के शिमला में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस और इंडी गठबंधन पर जमकर हमला बोला। इस दौरान पीएम मोदी ने अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी और कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि इन्होंने मुसलमानों की 77 जातियों को ओबीसी बना दिया। इन्हें हर जगह मलाई मिल रही थी।

उन्होंने रैली को संबोधित करते हुए कहा, ”इंडी गठबंधन की साजिश का ताजा उदाहरण पश्चिम बंगाल में सामने आया है। 2 दिन पहले ही वहां कलकत्ता हाई कोर्ट ने वहां 77 मुस्लिम जातियों के आरक्षण को खत्म कर दिया। मुसलमानों की 77 जातियों को इंडी गठबंधन वालों ने रातों-रात ओबीसी बना दिया था और ओबीसी का हक उनको दे दिया था। कोर्ट ने मामले को गंभीरता से लिया। इन 77 मुस्लिम जातियों को नौकरी, पढ़ाई में हर जगह मलाई मिल रही थी। ऐसा करके इंडी गठबंधन ने ओबीसी के हक पर डाका डाला और संविधान की धज्जियां उड़ा दी। अब कलकत्ता हाई कोर्ट के फैसले के बाद इंडी गठबंधन वाले बौखलाए हुए हैं। बंगाल की मुख्यमंत्री तो सीधे-सीधे कोर्ट के फैसले को मानने से भी इनकार कर रही हैं। इनके लिए संविधान और अदालतें कोई मायने नहीं रखती। इनका सबसे सगा अगर कोई है, तो वो इनका वोट बैंक है।”

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि आपने कांग्रेस का दौर देखा है, जब एक कमजोर सरकार देश में हुआ करती थी। उस समय पाकिस्तान हमारे सिर पर चढ़कर नाचता था। कांग्रेस की कमजोर सरकार दुनिया में गुहार लगाती फिरती थी।

पीएम मोदी ने कहा अब भारत दुनिया के सामने भीख नहीं मागेंगा। भारत अपनी लड़ाई लड़ेगा। और फिर भारत ने घर में घुसकर मारा। आज देखिए पाकिस्तान की क्या हालत हो गई है। हिमाचल के ऊंचे पहाड़ों ने मुझे अपना हौसला बुलंद रखना सिखाया है और हिमाचल की बर्फीली पहाड़ियों ने मुझे ठंडे दिमाग से काम करना भी सिखाया है। हिमाचल के ऊंचे पहाड़ों ने मुझे अपना सिर गर्व से ऊंचा रखना सिखाया है। मैं मां भारती का अपमान नहीं सह सकता। लेकिन कांग्रेस, मां भारती के अपमान से भी बाज नहीं आती। कांग्रेस को ‘भारत माता की जय’ कहने से दिक्कत है, कांग्रेस को ‘वंदे मातरम’ कहने से दिक्कत है। ऐसी कांग्रेस कभी हिमाचल का भला नहीं कर सकती।

पीएम मोदी ने आगे कहा, “यही कांग्रेस है जिसने भारत के सीमावर्ती इलाकों को अपने हाल पर छोड़ दिया था। जब बॉर्डर स्टेट में सड़क बनाने की बात आती थी तो कांग्रेस के हाथ-पांव फूल जाते थे। कांग्रेस डर जाती थी कि अगर सड़क बनाई तो उसी सड़क से दुश्मन भीतर आ जाएगा। ऐसी डरपोक सोच मोदी के मिजाज के साथ मेल नहीं खाती। मोदी ने कांग्रेस के मुकाबले कहीं ज्यादा पैसे दिए, मोदी ने कहा सड़कें बनाओ, इन्फ्रास्ट्रक्चर करो, आज बॉर्डर किनारे सैकड़ों किलोमीटर नई सड़कें बनी। आज बॉर्डर किनारे रहने वाले फौजियों का जीवन आसान हुआ है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने चार दशक तक फौजी परिवारों को वन रैंक वन पेंशन के लिए तरसाया। कांग्रेस ने ऐसा मजाक बनाया, देश के पूर्व सैनिकों की आंखों में धूल झोंकी और ऐसा पाप करने में उनको शर्म भी नहीं आई। 2013 में जब भारतीय जनता पार्टी ने मुझे प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया और रेवाड़ी में मेरी पहली रैली पूर्व सैनिक के साथ हुई थी तो मैंने रेवाड़ी में पूर्व सैनिकों के सामने वादा किया था कि मैं वन रैंक वन पेंशन लागू करूंगा। फिर कांग्रेस वाले डर गए, ये मोदी ने नया खेल खेला है तो उन्होंने रातों-रात अफरा-तफरी में बजट में कहा कि हम भी वन रैंक वन पेंशन लागू करेंगे। लेकिन इन्होंने क्या किया। 500 करोड़ रुपये का टोकन डालकर कह दिया कि वन रैंक वन पेंशन लागू करेंगे। फौज के साथ ये मजाक था। मोदी ने इसे आकर लागू किया।

Comments are closed.