Browsing Tag

रात्रि कहानी

🕉️ रात्रि कहानी 🕉️

दान-पुण्य एक धनाढय सेठ था, पर था बड़ा कंजूस स्वभाव का। दान-पुण्य के लिए तो उसका हाथ कभी खुलता ही न था। . उसके घर जो पुत्रवधू आयी वह बड़े कुलीन और सत्संगी घराने की थी। . घर के संस्कारी माहौल और सत्संग में जाने के कारण बचपन से ही उसके…