अशोक का पेड़ लगाने के है कई कारण, यहां जानें स्वास्थ्य लाभ और धार्मिक और वास्तुशास्त्र महत्व

समग्र समाचार सेवा
नई दिल्ली, 20मई। अशोक का पेड़ (Saraca asoca) एक लोकप्रिय औषधीय और धार्मिक महत्व का पेड़ है, जिसे घर में लगाने के कई फायदे हैं। सीधा होने की वजह से ज्यादा स्थान भी नहीं लेता और काट छांट की आवश्यकता भी नहीं पड़ती है | सभी आसानी से घर में ये वृक्ष लगाकर पर्यावरण के प्रति अपना दायित्व निर्वहन कर सकते है |

इसके कुछ मुख्य फायदे निम्नलिखित हैं:

1. स्वास्थ्य लाभ: अशोक के पेड़ की छाल और पत्तियों का उपयोग कई औषधीय प्रयोजनों के लिए किया जाता है। यह स्त्री रोगों, जैसे मासिक धर्म की अनियमितता और दर्द में मददगार होता है। इसका उपयोग रक्तस्राव को रोकने और त्वचा के रोगों के उपचार में भी किया जाता है।

2. वातावरण शुद्धिकरण: अशोक का पेड़ वातावरण को शुद्ध करता है और ऑक्सीजन की मात्रा को बढ़ाता है। यह वायु प्रदूषण को कम करने में मदद करता है और आसपास की हवा को ताजगी प्रदान करता है।

3. सौंदर्य और सजावट: अशोक का पेड़ अपने सुंदर और घने पत्तों की वजह से बगीचे की शोभा बढ़ाता है। इसका आकर्षक स्वरूप घर के सौंदर्य में वृद्धि करता है।

4. धार्मिक और वास्तुशास्त्र महत्व: अशोक का पेड़ हिंदू धर्म में पवित्र माना जाता है और इसे शुभ माना जाता है। इसे घर के आँगन में लगाने से सकारात्मक ऊर्जा और समृद्धि आती है। वास्तुशास्त्र में भी इसे विशेष महत्व दिया गया है।

5. छाया और तापमान नियंत्रण: अशोक का पेड़ घना और बड़ा होता है, जिससे यह अच्छी छाया प्रदान करता है। इससे घर के आसपास का तापमान नियंत्रित रहता है और गर्मियों में ठंडक मिलती है।

6. वन्यजीवों के लिए आवास: अशोक के पेड़ पक्षियों और अन्य छोटे जीवों के लिए अच्छा आवास प्रदान करते हैं। इससे जैव विविधता को समर्थन मिलता है।

अशोक का पेड़ घर में लगाना न केवल स्वास्थ्य और पर्यावरण के लिए लाभकारी है, बल्कि यह धार्मिक और सांस्कृतिक दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है।

Comments are closed.